Tuesday, February 7, 2017

अगर बाल जड़ने की समस्या से परेशान हैं, तो यहाँ अर्टिकल जरूर पडे।

अगर बाल जड़ने की समस्या से परेशान हैं, तो यहाँ अर्टिकल जरूर पडे।

देश में कई लोग बाल झड़ने की समस्या से परेशान हैं, कई नुस्खे आज़माने के बावजूद गंजापन तेज़ी से बढ़ रहा है. ऐसे में मटर के अंकुर के शक्तिदायक गुणों से बालों के जड़ों की गहराई में जाकर एक स्टिमेयुलेटर मशीन से बाल उगाने का दावा कर रही है एक निजी कंपनी रिचफील. इस प्रोडेक्ट का नाम है ऐनागेन. भारत में रिचफील को ट्राइकोलॉजी का जनक माना जाता है, यहां के डॉक्टर अपूर्व शाह और उनकी पत्नी सोनल शाह ने अंतरराष्ट्रीय वैज्ञानिकों की एक टीम बनाकर गंजेपन की समस्या का निदान ढूंढने की बात की है. दोनों ने डॉ फ्रेड जुइली और डॉ फ़ल्वियो फेरारी के साथ भारतीय-स्विस-इटालियन टीम बनाकर इस प्रोडेक्ट का पेटेंट करवाया है. डॉ फल्वियो फेरारी ने कहा ये अविष्कार इतना शक्तिशाली है कि मुझे इसकी जांच खुद पर करने की इच्छा हुई.

मैं सुनिश्चित करना चाहता था कि जांच की कसौटियों और सटीकता को लेकर कोई समझौता न हो. टेस्ट ट्यूब में देखा और वास्तविक जीवन में परिणाम अलग हो सकते हैं. हर दिन अनिश्चिताओं से भरा था, जबतक कि मुझे मेरे सिर पर ज्यादा घने बाल दिखाई ना देने लगें. ऐनागेन की बालों की पैदावार बढ़ाने की क्षमता सच में ज़िंदगी बदल सकती है. इसकी खोच करने वाली टीम का हिस्सा होना मेरे लिये गर्व की बात है.

इस बारे में डॉ अपूर्व शाह ने कहा दुनिया भर के वैज्ञानिकों ने अपने अध्ययन में पाया कि मटर के अंकुर में एक एन्ज़ाइम होता है जो त्वचा के लिये बेहद लाभकारी है.  हमने बालों और सिर की त्वचा पर इसे आज़माने का फैसला किया. हमने देखा इसके परिणाम शानदार थे. ऐसा इसलिए होता है क्योंकि ऐनोजेन (विकास चरण) के बालों का अनुपात टेलोजेन (विश्राम चरण) के बालों के मुकाबले बढ़ जाता है. मटर और इसके अंकुर पर हमारे द्वारा की गई खोज ने बालों पर लाभकारी असर दिखाया है और उन्हें और स्वस्थ, चमकदार, घना बनाया है.

No comments:

Post a Comment